Skip to content

क्या आप जानते है कुछ लोग कैसे पता कर लेते है अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है। पढ़िए इस लेख में इससे जुड़ी जानकारी

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है
Rate this post

आपके दिमाग में भी यह सवाल जरुर आया होगा कि, अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? यह बात कुछ लोगों को कैसे पता चल जाती है। आख़िर ऐसी क्या बात होती हैं उन लोगों में, जो हमारे दिमाग में क्या चल रहा है यह बता पाते हैं।

आपको बता दें कि, दुनिया में ऐसे कई सारे लोग हैं। जिन्हे यदी आप पूछेंगे कि, बताओं अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है, तो वो लोग सच में बता देते हैं।

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? यह सवाल काफी रोमांचक है। क्युकी अभी हमारे में दिमाग में क्या चल रहा है यह बात केवल हमे पता होती हैं। और किसी को भी पता नहीं होती है। अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? इसका जवाब जब कोई हमें बताता है, तो हम काफी हैरान होते है। क्युकी उस समय हमारे दिमाग में क्या चल रहा होता है। यह बात केवल हमे पता होती हैं। तो चलिए इस लेख में हम इस सवाल का सटीक जवाब जानने की कोशिश करते हैं। आख़िर कुछ लोग कैसे बता पाते हैं कि, अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है?

हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है हमारा दिमाग, जो काफी जटिल है। हमारा दिमाग ही है, जो हमारे शरीर को कंट्रोल करता है। जो हमारे मन में होता है उसके पीछे भी हमारा दिमाग ही है। अर्थात, जो दिमाग में होता है, वही हमारे मन में भी होता है। तथा जो हमारे मन में होता है, वही हमारे दिमाग में भी होता है। हम जो कुछ भी चिंतन करते हैं। स्मरण करते हैं। विचार करते हैं। या फिर कोई कार्य करते हैं। इसके पीछे हमारे दिमाग की और हमारे मन की अहम भूमिका होती हैं।

आपको बता दें कि, जो भी हम लोगों के सामने प्रकट करते है। वह सब हमारे दिमाग या मन के जरिए ही उत्पन्न होता है।

दरसल अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? यह बात जो लोग जानते हैं वे कोई साधारण लोग नहीं होते है। वे इस विद्या में माहिर होते हैं और उसी विद्या के भरोसे पर किसी के दिमाग में क्या चल रहा है यह बता पाते हैं। अब आपके दिमाग में यह भी सवाल आया होगा कि, वह कोन सी विद्या है, जिसके चलते ये लोग हमारे दिमाग में क्या चल रहा है यह बता पाते हैं। आइए जानते हैं।

आपकों जानकर आश्चर्य होगा कि, वह विद्या है योग और मनोविज्ञान। योग में मन शक्ती योग के बारे में कुछ जानकारी मिलती है। जो लोग योग के जरिए मन शक्ती जानने की शक्ती प्राप्त करते हैं। वे सभी लोग मन शक्ती के जरिए किसी के भी मन की और दिमाग की बात जान सकते हैं कि, सामने वाले के दिमाग में क्या चल रहा है।

आपको बता दें कि, जो लोग योगी होते है। यदी आप उन योगियों से मिलेंगे और उन्हे पूछेंगे कि, बताओं अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है, तो वे योगी लोग 90 प्रतिशत एक्यूरसी के साथ यह बता सकते हैं।

आपको बता दें कि, जो लोग योग जरिए ज्ञान की स्थिती में संयम प्राप्त करते हैं वे लोग अक्सर दूसरों के दिमाग में क्या चल रहा है यह बता पाते हैं। ये काम केवल वे लोग ही कर पाते हैं। क्युकी हम लोग हमेशा अपने मन में ही रमे हुए रहते हैं। इसलिए हम दूसरों के मन में या दूसरों के दिमाग में क्या चल रहा है यह पता नहीं कर पाते हैं।

यदी हम भी अपने मन को शांत कर लेते है तो, हमारा दिमाग भी हमारे काबू में आ जाएगा और हम भी दूसरे के मन की बात सुन सकेंगे और हम भी बता सकेंगे। यदी कोई हमसे पूछता है कि, बताओं अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? यह सब योग के जरिए ही संभव हो सकता है।

अब आप सोच रहे होंगे कि, ये इतना नही है। कोई हमसे पूछे कि, बताओं अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है। आपकों बता दूं कि, इसका सीधा और सरल सूत्र है। आपने कई बार यह नोटिस किया होगा कि, जब आप बोलते हैं, तब सामने वाला सुनाता है। वो आपके बात को तब तक सुनता है, जब तक आप लगातार बोलते जाते है। सामने वाले के चुप रहने के पीछे की वजह है बात को समझना। क्युकी वो चुप रहकर सुनेगा, तभी तो उसे बात समझ में आएंगी। नही तो वो समझ नही पाएगा कि, आप क्या कहना चाह रहे थे। इसी तरह जब आप चुप रहेंगे, तभी आप सामने वाले की बात अच्छे से सुन और समझ सकेंगे। ठीक इसी प्रकार से यदी आप अपने दिमाग और मन को चुप कर देंगे, तभी आपका दिमाग और मन दूसरे के मन की आवाज और दूसरे के दिमाग में क्या चल रहा है। यह सुनाई देगा और आप समझ पाएंगे।

अब आप सोच रहे होंगे कि, दूसरे के दिमाग में क्या चल रहा है? यह जानने के लिए अपने मन को और अपने दिमाग को कैसे चुप करा सकते हैं? ज्यादा परेशान मत होइए। हम आपको बताते हैं। हम या आप अपने दिमाग को और मन को ध्यान साधना और अभ्यास से चुप करा सकते हैं। आप अपने दिमाग और मन में चल रहे बातों के बिच के अंतराल पर यदी ध्यान देते हैं तो, आप अपने मन को और दिमाग़ को चुप करा सकते हैं। उन्हे शांत करा सकते हैं। जब आप इसे संभव कर सकेगें, तब आप भी किसी के दिमाग में क्या चल रहा है, तथा किसी के मन में क्या चल रहा है यह बता पाएंगे। यकीन मानिए इसके बाद यदी कोई आपसे पूछेगा कि, बताओं मेरे दिमाग में क्या चल रहा है तो, आप उसे 2 सेकंड में जान जाएंगे और उन्हे बताएंगे कि, उनके दिमाग में अभी फिलहाल क्या चल रहा है।

अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है

Abhi mere dimag mein kya chal raha hai

बुरा ना मानिए, मैंने इसके बारे में पढ़ा और सुना है कि, जो लोग योग साधना से अपने मन को और अपने दिमाग को अपने काबू में कर लेते है। वे लोग इसके बल पर चिटियो के पैरों में बंधे घुंघरू की छनछनाहट  तक भी सुन सकते हैं। हम दिमाग में क्या चल रहा है? यह इस वजह से नही जान पाते हैं। क्युकी हमारे दिमाग में पहले से ही अपने हजारों विचार होते हैं। इन विचारों के शोर में हम दूसरों के दिमाग में क्या चल रहा है। कैसे बता सकते हैं। यही इसके पीछे का लोजिक हैं।

आगे हम आपको बताना चाहते हैं कि, केवल योग ही, अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? यह बताने का एकमात्र जरिया नहीं है और एक जरिया है। दिमाग में क्या चल रहा है यह जानने का। और वह जरिया है मनोविज्ञान।

मनोविज्ञान की पढ़ाई करके भी आप यह बताने में सक्षम हो सकते हैं कि, सामने वाले के दिमाग में क्या चल रहा है। यदी सामने वाला आपसे झूठ बोलता है तो, आप उसके झूठ को पकड़ सकते हैं। क्योंकि मनोविज्ञान एक ऐसी शिक्षा है। जिसको करने पर कोई भी मनुष्य, पशु, पक्षी आदि के मानसिक प्रक्रियाओं, अनुभवों तथा व्यक्त और अव्यक्त व्यवहार को जानकर आप बता सकते हैं कि, सामने वाले के दिमाग में क्या चल रहा है। क्योंकि मनोविज्ञान विज्ञान का एक ऐसा भाग है, जो क्रमबद्ध रूप से सामने वाले का अध्ययन कर, उसके भीतर क्या चल रहा है? इसका पता कर सकता है।

Read this –

दोस्तो यह थी अभी मेरे दिमाग में क्या चल रहा है? इसको जानने की महत्व पूर्ण जानकारी। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताए। तथा ऐसी ही interesting जानकारी पढ़ने के लिए हमारी अन्य पोस्ट पर जरूर विजिट करें और हो सके तो उसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें।

Thank you

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!